Home उत्तराखंड चमोली में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया सशस्त्र बल पूर्व सैनिक दिवस।

चमोली में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया सशस्त्र बल पूर्व सैनिक दिवस।

7
0

भारत की सशस्त्र सेनाओं के पूर्व सैनिकों के सम्मान में 14 जनवरी को जनपद चमोली में सशस्त्र बल पूर्व सैनिक दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। जिला पंचायत परिसर में मुख्य अतिथि जिलाधिकारी हिमांशु खुराना सहित जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल (से.नि.) भाष्कर बनर्जी, भूतपूर्व सैनिकों एवं गणमान्य नागरिकों ने अमर शहीदों के बलिदान को याद करते हुए उनके चित्रों पर माल्यार्पण किया। पुलिस के जवानों ने शहीदों को सलामी दी।

जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने शहीदों को नमन करते हुए कहा कि देश की रक्षा में पूर्व सैनिकों का अमूल्य योगदान रहा है। हमें सैनिकों के अदम्य साहस एवं शौर्य गाथाओं से प्रेरणा लेनी चाहिए। जिला पंचायत सभागार में आयोजित सशस्त्र बल पूर्व सैनिक दिवस समारोह में जिलाधिकारी ने 31 वीर नारियों एवं पूर्व सैनिकों को प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित भी किया। इस अवसर पर पीस पब्लिक स्कूल गोपेश्वर एवं जीआईसी की छात्राओं ने देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति दी।
 
जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल (से.नि.) भाष्कर बनर्जी ने कहा कि भारतीय सशस्त्र बलों के पहले भारतीय कमांडर-इन-चीफ फील्ड मार्शल के.एम करियप्पा की सेवाओं की मान्यता और सम्मान में वर्ष 2017 से हर साल 14 जनवरी को सशस्त्र बल पूर्व सैनिक दिवस मनाया जाता है। 1953 में इसी दिन भारतीय सेना के पहले भारतीय कमांडर-इन-चीफ फील्ड मार्शल केएम करिअप्पा, जिन्होंने 1947 के युद्ध में भारतीय सेना का नेतृत्व किया था, औपचारिक रूप से सेवानिवृत्त हुए थे। सेवानिवृत सैन्य कर्मियों के योगदान को याद करने के लिए सशस्त्र बल भूतपूर्व सैनिक दिवस मनाया जाता हैै।

इस अवसर पर उप जिलाधिकारी आरके पांडेय, सहायक सैनिक कल्याण अधिकारी सूबेदार (से.नि.) कलम सिंह, पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह रावत, जिला सचिव महेन्द्र सिंह राणा, नगर अध्यक्ष दलवीर पुण्डीर, पूर्व सैनिक सुदर्शन सिंह, दलवीर कर्म्यालय, दर्शन सिंह बिष्ट, गोविन्द सिंह बजवाल, मकर सिंह, कुंदन सिंह पुंडीर, गोविन्द सिंह, वीरांगनाएं, सामाजिक कार्यकर्ता डीपी पुरोहित, डीपीआरओ आरएस गुंजियाल आदि मौजूद थे।