Home उत्तराखंड   चमोली डीएम ने 18  किलोमीटर की दूरी पैदल चलकर हेमकुंड यात्रा...

  चमोली डीएम ने 18  किलोमीटर की दूरी पैदल चलकर हेमकुंड यात्रा व्यवस्थाओं का लिया जायजा।

9
0

*चमोली

*अधिकारियों को यात्रा से पहले व्यवस्थाओं को सुचारू करने के दिए निर्देश।*

*25 मई से शुरू होगी हेमकुंड साहिब और लोकपाल की यात्रा।*

*हेमकुंड साहिब में अभी भी जमी है करीब आठ फीट बर्फ।*

श्री हेमकुंड साहिब की यात्रा शुरू होने से पहले जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने विभागीय अधिकारियों के साथ गोविंद घाट गुरुद्वारा से हेमकुंड साहिब तक 18 किलोमीटर की दूरी पैदल चलकर यात्रा मार्ग पर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि हेमकुंड साहिब की यात्रा को सुगम और सुखद बनाने के लिए यात्रा से पहले पैदल मार्ग पर सभी व्यवस्थाओं को सुचारू किया जाए। श्री हेमकुंड साहिब और लोकपाल मंदिर की यात्रा इस साल 25 मई से शुरू होगी। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा के आसपास अभी भी करीब 08 फीट बर्फ है। यहां लक्ष्मण मंदिर व हेमकुंड सरोवर भी पूरी तरह से बर्फ से ढका हुआ है। हालांकि सेना के जवानों ने हेमकुंड साहिब मार्ग पर बर्फ हटाकर आवाजाही सुचारू कर दी है।

जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि पैदल यात्रा मार्ग पर मोड सुधारीकरण, रेलिंग, पार्किंग, घोडा पडाव तथा श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए रेन शेल्टर, यात्री शेड, बेंच, साइनेज सहित बिजली, पानी, शौचालय, साफ सफाई, स्वास्थ्य और सुरक्षा की समुचित व्यवस्थाएं की जाए। घोड़े-खच्चरों के लिए भी गर्म पानी की उचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि यात्रा शुरू होने से पहले सभी व्यवस्थाओं को सुचारू करें। यात्रा मार्ग पर किलोमीटर, हेक्टोमीटर स्टोन और साइनेज लगाए जाए। जल संस्थान को यात्रा मार्ग पर सभी स्टैंड पोस्टों और वाटर एटीएम में शुद्ध पेयजलापूर्ति सुचारू करने के निर्देश दिए।
 
जिलाधिकारी ने इको विकास समिति को पुलना, भ्यूंडार, जंगल चट्टी, घांघरिया, अटलाकोटी में निर्मित नए शौचालयों में रंगरोगन और यात्रा मार्ग पर सभी सुलभ शौचालयों में बिजली, पानी सहित यात्रा मार्ग पर साफ सफाई की समुचित व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए। पुलिस विभाग को यात्रा के दौरान सुरक्षा के सभी इंतजाम करने, एसडीआरएफ के साथ डीडीआरएफ जवानों की भी तैनाती करने के निर्देश दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने घांघरिया हेलीपैड, थाना, चौकी, अस्पताल सहित यात्रा से जुड़ी तमाम व्यवस्थाओं का जायजा लिया और श्री हेमकुंड साहिब, लोकपाल मंदिर और वैली ऑफ फ्लावर की यात्रा को सुखद बनाने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश अधिकारियों को दिए।

हेमकुंड साहिब यात्रा मार्ग पर लोनिवि ने 84 डेंजर मोडों में से 72 मोडो का सुधारीकरण कार्य पूर्ण हो गया है और शेष कार्य प्रगति पर है। सेना के जवानों द्वारा हेमकुण्ड साहिब मार्ग पर बर्फ हटाकर आवाजाही सुचारू कर दी गई है। म्यून्डार गांव में 165 मीटर लंबा पुल बनकर तैयार है। पुलना से हेमकुण्ड तक के ट्रैक पर 14 रेन शेल्टर, 02 यात्री शेड, 282 बैंच लगाकर यात्रियों के बैठने के लिए तैयार किए गए हैं। हेमकुंड यात्रा मार्ग पर स्थित 30 पीटीएसपी व टीटीएसपी है, जिन पर पेयजल सुचारू करने का काम चल रहा है। पुष्पावती नदी से घांघरिया के लिए नई पेयजल लाइन पर भी काम शुरू हो गया है। साथ ही घांघरिया में घोड़े-खच्चरों के लिए बाईपास बनाया गया है। अटलाकोटी तल्ली और मल्ली में दो नए शौचालय बनाए गए है।

निरीक्षण के दौरान गोविंद घाट गुरुद्वारा प्रबंधक सेवा सिंह, डीएफओ भारत भूषण मर्तोलिया, एसडीएम चन्द्र शेखर बशिष्ठ, सीएमओ डा.राजीव शर्मा, सीओ पुलिस अमित कुमार शैनी, लोनिवि के अधिशासी अभियंता अभियंता राजवीर सिंह चौहान, ईई जल संस्थान संजय कुमार श्रीवास्तव, पर्यटन अधिकारी बृजेन्द्र पांडेय, व्यवस्था इकाई सुलभ मनोज झा सहित यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े अन्य अधिकारी मौजूद थे।