Home उत्तराखंड   कम मतदान प्रतिशत वाले बूथों पर चलाए विशेष जागरूकता अभियान-डीईओ।

  कम मतदान प्रतिशत वाले बूथों पर चलाए विशेष जागरूकता अभियान-डीईओ।

10
0

लोकसभा चुनाव के मध्येनजर जिला निर्वाचन अधिकारी हिमांशु खुराना ने शनिवार को स्वीप कार्यो की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने मतदान प्रतिशत बढ़ाने पर जोर दिया।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्देशित किया कि पिछले लोकसभा निर्वाचन आंकड़ों का विश्लेषण करते हुए मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए विशेष प्लान तैयार किया जाए। विगत निर्वाचन में 50 प्रतिशत से कम मतदान वाले बूथों पर विशेष फोकस करते हुए कम मतदान प्रतिशत के कारणों और समस्याओं को दूर करने का प्रयास किया जाए। साथ ही ऐसे बूथ जिनमें 50 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है, लेकिन राज्य और राष्ट्रीय मतदान प्रतिशत से कम है, उन बूथों पर भी मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए जागरूकता कार्यक्रम संचालित किए जाए। जो लोग बाहर रहते है, उनको मतदान में भाग लेने के लिए प्रेरित किया जाए। दिव्यांग और बुजुर्ग मतदाताओं को वोट देने हेतु आवश्यक सहयोग एवं सुविधाएं मुहैया कराई जाए। उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से मतदाता बनने और वोट देने के लिए जागरूक किया जाए। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि बूथ लेवल पर बनाए गए जागरूकता गु्रपों के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक किया जाए।

सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि पिछले लोकसभा निर्वाचन में जनपद चमोली के 109 बूथों पर 50 प्रतिशत से कम मतदान हुआ। जिसमें बद्रीनाथ विधानसभा में 31, थराली में 41 और कर्णप्रयाग में 37 बूथ शामिल है। मतदाता सूची में 2939 दिव्यांग मतदाता पंजीकृत है। जिले में 100 वर्ष से अधिक उम्र के 21 मतदाता है। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी/स्वीप कार्यक्रम के नोडल अधिकारी अभिनव शाह, स्वीप के जिला समन्वय कुलदीप गैरोला सहित तहसीलों से सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं स्वीप टीम के सभी सदस्य वर्चुअल माध्यम से मौजूद थे।