Home उत्तराखंड आगामी चारधाम यात्रा को सरल, सुगम और सुरक्षित बनाने के लिए समर्पित...

आगामी चारधाम यात्रा को सरल, सुगम और सुरक्षित बनाने के लिए समर्पित सिस्टम करें तैयार-डीएम चमोली।

2
0

चमोली: जनपद में आगामी चारधाम यात्रा को सरल, सुगम और सुरक्षित बनाने को लेकर गुरूवार को जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें पिछले यात्रा अनुभवों और मौजूदा व्यवस्थाओं पर चर्चा की गई और यात्रा सिस्टम को सशक्त बनाने के लिए सभी के सुझाव भी लिए गए।

जिलाधिकारी ने कहा कि विगत चारधाम यात्रा में देश दुनियां से रिकार्ड श्रद्वालु बद्रीनाथ और हेमकुंड धाम पहुंचे है। हर साल श्रद्वालुओं की संख्या बढ रही हैं। ऐसे में चारधाम यात्रा सिस्टम को सुदृढ़ एवं सशक्त बनाया जाना बेहद आवश्यक है। जिसके लिए अभी से तैयारी की जानी चाहिए। उन्होंने निर्देशित किया कि बद्रीनाथ धाम में श्रद्धालुओं के लिए मंदिर आने जाने वाले क्षतिग्रस्त पैदल मार्गो का नवनिर्माण किया जाए। मास्टर प्लान निर्माण कार्यो के दौरान क्षतिग्रस्त सीवर लाइन की मरम्मत हेतु शीघ्र प्लान तैयार करने और श्रद्धालुओं एवं पर्यटकों के लिए स्वच्छ पेयजल हेतु पर्याप्त संख्या में वाटर एटीएम लगाने के निर्देश जल संस्थान को दिए। विद्युत विभाग को बद्रीनाथ में विद्युत पोलों की शिफ्टिंग कार्य पूरा करने को कहा। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि यात्रा के दौरान ट्रैफिक मैनेजमेंट, नए पार्किंग स्थलों के चयन, आवास एवं यात्रियों की सुविधा के लिए साइनेज के साथ संचार व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाए। आईएनआई डिजाइन से समन्वय करते हुए मंदिर के पास सीसीटीवी कक्ष तैयार किया जाए। यात्री पंजीकरण, टोकन काउंटर, इको शुक्ल के लिए पाण्डुकेश्वर में व्यवस्था की जाए और गौचर में संचालित काउंटरों पर वाई-फाई, विद्युत, शौचालय व्यवस्था की जाए। स्वास्थ्य विभाग को बद्रीनाथ तथा हेमकुंड यात्रा मार्ग पर बेसिक मेडिकल उपकरणों सहित चिकित्सकों की तैनाती हेतु अभी से प्लान तैयार करने को कहा।

जिलाधिकारी ने एचआईडीसीएल, बीआरओ तथा लोनिवि के अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्रों में यात्रा मार्ग पर संचालित निर्माण कार्यो को शीघ्र पूरा करें। भूस्खलन प्रभावित क्षेत्रों में ट्रीटमेंट के साथ सड़क डामरीकरण का कार्य किया जाए। एसडीएम, पुलिस एवं परिवहन अधिकारी यात्रा मार्ग का संयुक्त निरीक्षण करते हुए संवेदनशील स्थलों को ठीक कराना सुनिश्चित करें। सभी नगर पालिका एवं नगर पंचायत यात्रा पढाव एवं यात्रा मार्गाे पर ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ करने के साथ शौचालयों की मरम्मत, रंगरोगन कार्यो शीघ्र शुरू करें। यात्रा मार्ग पर जिन स्थानों पर अंधेरा रहता है, वहां पर पथ प्रकाश हेतु प्रस्ताव तैयार किया जाए। पर्यटन एवं सुलभ इंटरनेशनल यात्रा मार्ग पर शौचालयों की मरम्मत, निर्माण के साथ ही विद्युत व पानी की आपूर्ति सुनिश्चित करें। हेमुकंड यात्रा मार्ग पर घोडे-खच्चरों की लीद के लिए गढ़ढे तैयार किए जाए और बीमा आदि की व्यवस्था की जाए। फूलों की घाटी जाने वाले पैदल मार्ग पर सोलर से पथ प्रकाश व्यवस्था एवं नेटवर्क सुविधा के लिए प्रस्ताव तैयार करें। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि चारधाम यात्रा मार्ग पर संचालित सभी निर्माण एवं मरम्मत कार्यो को यात्रा से पहले पूरा करते हुए सुगम चारधाम यात्रा संचालन के लिए एक समर्पित सिस्टम तैयार किया जाए।

इस अवसर पर डीएफओ सर्वेश कुमार दुबे, मुख्य विकास अधिकार अभिनव शाह, अपर जिलाधिकारी डॉ अभिषेक त्रिपाठी, एसडीएम संतोष कुमार पांडेय, एसडीएम आरके पांडेय, सीओ पुलिस नताशा सिंह सहित यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े तमाम विभागों के अधिकारी एवं मंदिर समिति के पदाधिकारी उपस्थित थे।