Home उत्तराखंड गोपीनाथ मंदिर मार्ग सौंदर्यीकरण को लेकर कवायद शुरू

गोपीनाथ मंदिर मार्ग सौंदर्यीकरण को लेकर कवायद शुरू

6
0

चमोली: स्मार्ट सिटी परियोजना की तर्ज पर गोपेश्वर के गोपीनाथ मंदिर मार्ग के सौंदर्यीकरण की जिला प्रशासन ने कवायद शुरु कर दी है। जहां योजना के निर्माण को शासन से सैद्धांतिक स्वीकृति मिल चुकी है। वहीं कार्यदायी संस्था ग्रामीण निर्माण विभाग ने योजना को लेकर मुख्य बाजार का सर्वेक्षण शुरू कर दिया है। मंगलवार को ग्रामीण निर्माण विभाग, लोक निर्माण विभाग, ऊर्जा निगम, जल संस्थान, नगर पालिका के अधिकारियों और व्यापार संघ के पदाधिकारियों ने मुख्य बाजार का संयुक्त निरीक्षण किया।

ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता अल्लादिया ने बताया कि योजना के तहत नगर के गोपीनाथ मंदिर मार्ग का सौंदर्यीकरण किया जाना प्रस्तावित है। जिसमें मंदिर मार्ग पर गुजरने वाली विद्युत, पेयजल, डिश केबल, नेटवर्क फाइबर सहित सभी लाइनों को सर्विस डक्ट बनाकर अंडरग्राउंड किया जाएगा। साथ ही मंदिर के मुख्य द्वार से 450 मीटर मार्ग पर बनी 171 से अधिक दुकानों के बाहरी हिस्से को पहाड़ी शैली में एकरुपता दी जाएगी। वहीं मुख्य बाजार से गुजरने वाली नालियों को भी अंडरग्राउंड किया जाएगा। सड़क पर कोबल स्टोन लगाया जाएगा। दुकान के शटरों पर गोपीनाथ मंदिर से जुड़ी अथवा लोक संस्कृति से संबंधित पेंटिंग बनाकर सजाया जाएगा। उन्होंने बताया कि योजना के निर्माण के लिए शासन की सैद्धांतिक स्वीकृति मिल चुकी है। साथ ही योजना के निर्माण के लिए साढ़े नौ करोड़ का वित्तीय प्रस्ताव स्वीकृति के लिए भेज दिया गया है। यदि सबकुछ योजना के अनुसार चला तो एक वर्ष में गोपीनाथ मंदिर मार्ग के सौंदर्यीकरण का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा।

इस मौके पर व्यापार संघ अध्यक्ष अनूप पुरोहित अंकोला, रोहितास पुरोहित, नीरज सिंह, ग्रामीण निर्माण विभाग के सहायक अभियंता एलपी भट्ट, नगर पालिका के कनिष्ठ अभियंता रमेश चंद्र उनियाल सहित लोनिवि, ऊर्जा निगम व जल संस्थान के अधिकारी मौजूद थे।