Home उत्तराखंड दुग्ध उत्पादको को सौगात 04 रू0 प्रति लीटर दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन राशि...

दुग्ध उत्पादको को सौगात 04 रू0 प्रति लीटर दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन राशि के तहत 10 करोड 35 लाख धनराशि जारी ।

15
0

लालकुआं नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहाकारी संघ प्रदेश के दुग्ध उत्पादकों को सरकार द्वारा दीपावली से पूर्व दुग्ध उत्पादकों के कल्याणार्थ दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत 10 करोड 35 लाख की धनराशि अवमुक्त किये जाने पर नैनीताल दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश सिह बोरा व दुग्ध संघ प्रबन्ध कमेटी द्वारा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एवं दुग्ध मंत्री सौरव बहुगुणा का आभार वयक्त किया है।

दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश सिह बोरा ने जानकारी देते हुए बताया कि नैनीताल जनपद को प्राप्त धनराशि के सापेक्ष सामान्य वर्ग हेतु 9 करोड़ 76 लाख व एसी.एस.पी वर्ग के 59 लाख 62 हजार *कुल 10 करोड 35 लाख* की धनराशि एकमुश्त अवमुक्त की गई है जिससे नैनीताल जनपद के 30 हजार दुग्ध उत्पादक लाभान्वित होगें। प्राप्त प्रोत्साहन राशि को शीघ्र ही दुग्ध उत्पादको के खातो में डी.बी.टी. के माध्यम से भेजा जायेगा ।

जिस बावत श्री बोरा ने सरकार द्वारा पूरे प्रदेश को जारी 20 करोड धनराशि के सापेक्ष आधे से अधिक धनराशि नैनीताल जनपद को उपलब्ध कराये जाने पर प्रदेश के मुख्य मंत्री पुष्कर सिह धामी व दुग्ध मंत्री सौरभ बहुगुणा का आभार व्यक्त किया गया ।

मुकेश बोरा ने कहा कि इसके अतिरिक्त पशु पोषण योजना अन्तर्गत पशूआहार साइलेज व मिनरल मिक्सर की दरो में अनुदान हेतु 2 करोड 35 लाख, पर्वतीय क्षेत्र में सचिव प्रोत्साहन योजना अन्र्तगत 11 लाख 44 हजार, महिला डेरी योजना अन्तर्गत 18 लाख 71 हजार की धनराशि नैनीताल दुग्ध संघ को प्राप्त हुई है जिससे निश्चित ही दुग्ध कार्य कलापों को गति मिलेगी ।

मुकेश बोरा ने उत्पादको से क्रय किये जा रहे दूध में किसी भी प्रकार की गडबडी को राकेने व पारदर्शी तरीके से दुग्ध क्रय किये जाने के लिए दुग्ध संघ व ग्राम स्तर पर संचालित दुग्ध समितियों में आंनलाइन मिल्क प्रोक्यरमेन्ट मैन्जमेन्ट साफ्टवेयर तैयार किया गया है प्रथम चरण में 100 दुग्ध समितियों को इस सिस्टम से ट्रायल हेतु आंनलाइन जोडा गया है ।

जिसके बेहतर परिणाम प्राप्त हो रहे है। इसके साथ ही अध्यक्ष मुकेश पूरा द्वारा अवगत करा गया कि तकनीकी स्टाफ की कमी को पूर्ण करते हुए सेवा प्रदाता के माध्यम से कार्यरत कार्मिकों के मानदेय में प्रतिमाह 1हजार की वृद्धि की गई है

अध्यक्ष मुकेश बोरा ने बाजार में दुग्ध दरो में वृद्धि पर अवगत कराया कि प्रतिलीटर दुग्ध प्रस्करणं लागत बढने के कारण दुग्ध मूल्य दरो में बढोत्तरी की गई है। दुग्ध प्रोसेसिंग लागत घटाने हेतु हाईटेक प्लान्ट मशीनरी का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है।

इसके साथ ही अध्यक्ष मुकेश बोरा द्वारा बताया गया कि दुग्ध संघ द्वारा दीपावली पर्व में उपभोक्ताओं एवं उत्पादकों की व्यापक माॅंग को देखते हुए शुद्ध देशी आंचल घी से तैयार आंचल बेसन लडडू का उत्पादन शुरू कर दिया गया है। जिसकी प्रतिकिग्रा दर 4 सौ रूपया निर्धारित की गई है