Home उत्तराखंड एसबीआई द्वारा संचालित 13 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुवा समापन

एसबीआई द्वारा संचालित 13 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुवा समापन

30
0

भारतीय स्टेट बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरसेटी) के तत्वावधान में ऊखीमठ ब्लाक के पर्यटन गांव सारी में स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को दिए जा रहे 13 दिवसीय जूट प्रोडक्ट उद्यमी प्रशिक्षण का रविवार को प्रमाण पत्र वितरण व प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षणार्थियों के फीडबैक के साथ ही समापन हुआ। प्रशिक्षण में 32 महिलाओं ने प्रतिभाग हिस्सा लिया।
समापन अवसर पर प्रशिक्षणार्थियों को खंड विकास अधिकारी ऊखीमठ दिनेश चंद्र मैठाणी जी, आरसेटी के निदेशक के.एस. रावत, आंकलनकर्ता अजय नौटियाल, ब्लाक मिशन मैनेजर मनोज कोठारी, देवरिया ताल ग्राम संगठन अध्यक्ष गुड्डी देवी द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण-पत्र वितरित किए गए।
खंड विकास अधिकारी ने बतौर मुख्य अतिथि के रुप में अपने संबोधन में समूह की महिलाओं को सीसीएल (क्रेडिट कैश लिमिट) के बारे मे़ विस्तार से जानकारी दी। कहा कि ग्राम संगठन अपनी कार्य योजना ग्राम पंचायत की खुली बैठक में रख सकते हैं। कहा कि महिलाएं जूट के उत्पाद तैयार करें, इसके मार्केटिंग के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।
आरसेटी के निदेशक ने महिलाओं को जूट उत्पाद तैयार कर अपनी आर्थिक स्थिति मजबूत करने हेतु प्रेरित किया गया। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण महिलाओं द्वारा प्रशिक्षण के दौरान बनाए गए जूट के सुंदर मनीपर्स, कैरिबैग, लेडीज हैंड बैग रहे। मास्टर ट्रेनर किरन नेगी व वीरेंद्र बर्तवाल द्वारा दिए गए प्रशिक्षण को महिलाओं ने बेहतरीन बताते हुए आरसेटी का धन्यवाद ञापित किया। इस अवसर पर आरसेटी द्वारा 32 प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण-पत्र वितरित करने के साथ ही प्रशिक्षण के दौरान अनुशासन, सहयोग, विशेष भूमिका, व्यवस्था, प्रशिक्षण में समय पर उपस्थिति, प्रशिक्षण के लिए प्रेरित करने, खेल सहित पर्यावरण नाटक आदि के लिए महिलाओं को पारितोषिक देकर सम्मानित भी किया गया।