Home उत्तराखंड बिजराकोट के आराध्य देव रावल देवता की बन्याथ( देवरा) यात्रा ...

बिजराकोट के आराध्य देव रावल देवता की बन्याथ( देवरा) यात्रा 26 व 27 दिसम्बर को कमेडा गांव भ्रमण एव रात्री विश्राम पर रहेंगे

55
0

चमोली: 22 नवम्बर से जनपद रुद्रप्रयाग दसज्यूला क्षेत्र बिजराकोट एव जनपद चमोली पोखरी बिकास खण्ड क्षेत्र के बडेथ,डांग,इज्जर,भन्वाडी आदि गाँवों के आराध्य देव रावल देवता की बन्याथ (देवरा ) यात्रा 26 दिसम्बर सोमवार को पाटी गांव में मौजाद व भग्तों को आर्शिवाद देने के बाद पश्चात कमेडा गांव में धियाण कल्पेश्वरी देबी पत्नी श्री मातबर सिंह रावत के घर पर रात्री विश्राम पर रहेंगे एव 27 को कमेडा गांव भ्रमण एव भग्तजनों को आर्शिवाद देने के बाद कमेडा गांव मे ही धियाण कान्ता देबी पत्नी योगम्बर सिंह राणा के घर पर रात्री विश्राम पर रहेंगे तत्पश्चात 28 दिसम्बर को आराध्य देव रावल देवता कमेडा से आगे भ्रमण कर सन गाँव पहुचेंगे एव सन गाँव में धियाण सुनीता देबी पत्नी राकेश सिंह बिष्ट के घर रात्री विश्राम पर रहेगें
आराध्य देव रावल देवता की बन्याथ 22 नवम्बर से प्रारम्भ हुई और 8 दिसम्बर को घर्या बन्याथ (देवरा) यात्रा पूरी करने के पश्चात रावल देवता ने अपनी यात्रा 9 दिसम्बर से पूरब से सुरु की और दसज्यूला पट्टी व सारी, सिन्द्रवाणी छिनका,कोठगी,भटवाडी,मदोल,क्वीली, तोरियाल, चोपडा, जोनला, डुगरी, गन्धारी, पाली, आदि गांवों में द्यूका एव पाटी, दिखाकर एव सभी ग्रामीणों को आर्शिवाद दिया इस दौरान ग्रामीणों द्वारा रावल देवता की देवरा यात्रा अपने अपने गांवों में पहुवने पर पुष्प वर्षा एव भब्य स्वागत किया गया इस दौरान भग्तजनों ने रावल देवता से अपनी अपनी मन्नतें मांगी 26 दिसम्बर मंगलवार को रावल देवता की देवरा यात्रा रात्री विश्राम पर कमेडा गांव निवासी धियाण श्रीमती कल्पेश्वरी पत्नी मातबर सिंह रावत जी के घर पर रहेंगे एव 27 दिसम्बर को कमेडा गांव में ही धियाण श्रीमती कान्ता देबी पत्नी योगम्बर सिंह राणा जी के घर रात्री विश्राम पर रहेंगे तत्पश्चात 28 दिसम्बर को आराध्य देव रावल देवता कमेडा गाँव वासियों एव भग्तजनों को आर्शिवाद देने के बाद भ्रमण करते हुए सन गांव पहुचेंगे व धियाण सुनीता देबी पत्नी राकेश बिष्ट जी के घर रात्री विश्राम पर रहेंगे