Home उत्तराखंड ठगी करने वाले पति पत्नी गिरफ्तार

ठगी करने वाले पति पत्नी गिरफ्तार

33
0

सीधे-सादे लोगों को अलग-अलग तरीके से झांसा देकर ठगी करने वाले पति-पत्नी को कर्णप्रयाग पुलिस ने किया गिरफ्तार।
18-06-2019 को वादी सुनील मिश्रा पुत्र श्री के0 एन0 मिश्रा निवासी ग्राम व पो० गौचर थाना कर्णप्रयाग जनपद चमोली द्वारा कोतवाली कर्णप्रयाग में तहरीर दी गयी कि अनिल नेगी पुत्र श्री जसपाल सिंह निवासी ग्राम तमुणी नलडुंगा थाना पोखरी जनपद चमोली तथा उसकी पत्नी सुषमा नेगी द्वारा एक्सीडेन्ट के बहाने रू0 25,000/- की ठगी करने और ज्ञात होने कि उपरोक्त द्वारा मिलकर कई जगह ठगी करने की तहरीर के आधार पर अनिल नेगी तथा उसकी पत्नी सुषमा नेगी उपरोक्त के विरुद्ध थाना कर्णप्रयाग पर दिनांक 18/06/2019 को मु0अ0सं0-23/2019 धारा 420 भादवि बनाम अनिल नेगी आदि पंजीकृत कराया गया । उक्त अभियोग में अभियुक्तगण माननीय न्यायालय से जमानत पाकर फरार हो गये अभियुक्तगणों की उपस्थिति हेतु न्यायालय द्वारा समन व वारण्ट जारी किये गये किन्तु अभियुक्त लगातार फरार चल रहे थे जिस पर माननीय न्यायालय के आदेशानुसार माननीय न्यायालय के आदेशों की अवहेलना करने पर माननीय न्यायालय दवारा अभियुक्तगणों उपरोक्त के विरुद्ध स्थाई वारण्ट जारी कर थाना कर्णप्रयाग पर मु0अ0सं0 22/022 धारा 229 ए भादवि0 बनाम अनिल नेगी आदि पंजीकृत कराया गया। मामले की गम्भीरता को देखते हुये श्रीमान पुलिस अधीक्षक चमोली प्रमेन्द्र डोबाल के निर्देशन व श्रीमान क्षेत्राधिकारी कर्णप्रयाग अमित कुमार सैनी महोदय के पर्यवेक्षण में अभियुक्तगणों की गिरफ्तारी/तलाश हेतु पुलिस टीम गठित की गयी। गठित पुलिस टीम द्वारा अभियुक्तगणों की गिरफ्तारी हेतु सुरागरसी पतारसी करते हुये सर्विलांस की मदद से अभियुक्त अनिल नेगी उपरोक्त को 24/05/2023 को स्थान पंचपुलिया के पास से तथा अभियुक्ता सुषमा नेगी उपरोक्त को दिनांक 25-05-2023 को मैन बाजार कर्णप्रयाग से गिरफ्तार कर मा० न्याया में पेश किया जा रहा है।

अपराध का तरीका- अभियुक्तगण द्वारा लोगों को अलग अलग तरीके से झांसा देकर (जैसे बीमारी, एक्सीडेन्ट ,जमीन लेने व बेचने आदि) सीधे सादे लोगों से ठगी कर फरार हो जाना तथा अलग- अलग निवास स्थानों पर नाम पता बदलकर रहना ।

अभियुक्तों का नाम पता-

1- अनिल नेगी पुत्र श्री जसपाल सिंह निवासी ग्राम तमुणी नलडुंगा थाना पोखरी चमोली
2- सुषमा नेगी पत्नी अनिल नेगी निवासी उपरोक्त ।

आपराधिक इतिहास-
1- मु0अ0सं0-23/2019 धारा 420 भादवि कोतवाली कर्णप्रयाग) मु0अ0सं0 22/022 धारा 229 ए भादवि0 (कोतवाली कर्णप्रयाग)