Home उत्तराखंड कीड़ों ने फसल को किया बर्बाद, काश्तकारों को हुवा भारी नुकसान

कीड़ों ने फसल को किया बर्बाद, काश्तकारों को हुवा भारी नुकसान

16
0

चमोली:ग्राम पंचायत ईरानी पाणा झिझी में चोलाई रामदाना की फसल कीड़ो ने भारी नुकसान पहुचाया है, ग्रामीणों ने मामले की जानकारी विभाग को दी और स्थलीय निरीक्षण कर मुआवजे की मांग उठाई।

दशोली ब्लॉक के पाणा इरानी क्षेत्र स्थानीय उत्पादों के लिए मशहूर है, जैविक खेती के माध्यम से इस क्षेत्र में आलू, राजमा, चौलाइ(रामदाना) उत्पादन कर आर्थिकी मजबूत करते हैं। लेकिन
इस समय काश्तकारों को कीट पतंगों ने भारी नुकसान पहुचाया है,
ग्रामीणों ने कृषि विभाग से फसल का निरक्षण कर ग्रामीण काश्तकार को मुआवजा दिये ज्ञे की मांग की है उन्होंने बताया कि रामदाना ईरानी पाणा झिझी भनाली का मुख्य फसल हैं जो बाजार में 60रु kg विक्रय होता हैं, प्रत्येक परिवार का 5से 6 कुंटल चोलाई की जैविक खेती करते है, वर्ष भर में ग्राम पंचायत ईरानी में 120 कुंटल , पाणा में 50कुंटल ओर झिझी में 20कुंटल उत्पादन होता है, इस वर्ष फसल कीड़ो ने समाप्त कर दी है क्षेत्र पंचायत विजय ने सरकार से मांग की कि काश्तकारो को मुआवजा दिया जाय, इन्ही फसलों से हुई आमदनि से परिवार का साल भर का पालन पोषण करते है उन्होंने सरकार से उचित मुआवजे की मांग की।