Home उत्तराखंड एसडीआरएफ की मदद से पुलिस लाइन में नियुक्त पुलिस कार्मिकों को दिया...

एसडीआरएफ की मदद से पुलिस लाइन में नियुक्त पुलिस कार्मिकों को दिया गया आपदा प्रबन्धन का व्यवहारिक प्रशिक्षण

6
0

रुद्रप्रयग: किसी भी कार्य का निरन्तर अभ्यास आपके उस कार्य पर पकड़ को और भी मजबूत करता है। यही निर्देश पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग ने पुलिस लाइन के सालाना निरीक्षण अवसर पर दिये गये। उनके द्वारा देखा कि पुलिस लाइन स्टोर में एक से बढ़कर एक आपदा उपकरण रखे हैं, इन उपकरणों के प्रयोग किये जाने का प्रशिक्षण एसडीआरएफ की मदद से किये जिने के निर्देश दिए गए। जैसा कि सर्वविदित है कि उत्तराखण्ड राज्य की एसडीआरएफ यानि राज्य आपदा प्रतिवादन बल कठिन से कठिन रेस्क्यू अभियान करने हेतु जानी जाती है व उनके द्वारा समय-समय पर कठिन रेस्क्यू अभियान चलाये जाने के साथ ही पुलिस विभाग की सभी इकाइयों को आपदा प्रबन्धन सम्बन्धी प्रशिक्षण व जानकारी भी दी जाती है। सबसे अहम बात ये कि एसडीआरएफ की एक टुकड़ी निरन्तर जनपद रुद्रप्रयाग में रहकर अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रही है। पुलिस उपाधीक्षक गुप्तकाशी/लाइन्स के पर्यवेक्षण में प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाइन विकास पुण्डीर ने जनपद में तैनात एसडीआरएफ से समन्वय स्थापित कर पुलिस लाइन में नियुक्त कार्मिकों को आपदा प्रबन्धन विषयक प्रशिक्षण प्रदान कराया गया। एसडीआरएफ टीम ने पुलिस जवानों को होने वाली आपदाओं के प्रकार व बचाव के उपाय, विभिन्न प्रकार की रोप (रस्सों) को एंकरिंग ⚓, गांठों को लगाना, रेस्क्यू से पूर्व स्वयं की सुरक्षा के दृष्टिगत मजबूत बेस तैयार किये जाने, चट्टान से रैपलिंग (नीचे उतरने) व स्ट्रेचर की सहायता से घायल या कैजुअल्टी को ऊपर लाये जाने, प्राथमिक उपचार दिए जाने, वैकल्पिक स्ट्रेचर से कैरी किये जाने के विभिन्न तरीकों की जानकारी के साथ ही आपदा में बचाव कार्य किये जाने सम्बन्धी उपकरणों के बारे में जानकारी दी गयी। इस दौरान खोज बचाव के विभिन्न तरीकों का डेमो भी दिया गया व उपस्थित कार्मिकों से आपदा राहत बचाव कार्य का आभासी अभ्यास भी कराया गया। पुलिस लाइन में नियुक्त कार्मिकों द्वारा उत्साह के साथ प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया।