Home उत्तराखंड स्वयं सहायता समूहों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए 30 दिवसीय प्रशिक्षण...

स्वयं सहायता समूहों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए 30 दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

13
0

चमोली: स्वयं सहायता समूहों को रोजगार से जोड़ने के उददेश्य से नगर पालिका परिषद चमोली गोपेश्वर द्वारा आज से 15 स्वयं सहायता समूहों के 30 सदस्यों को 30 दिवसीय जूट के थैले बनाने का प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारम्भ हो गया है। प्रशिक्षण का उदघाटन नगर पालिका परिषद चमोली- गोपेश्वर के अध्यक्ष श पुष्पा पासवान द्वारा किया गया।

दीनदयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के सिटि मिशन मैनेजर सुरेन्द्र पॅवार द्वारा बताया गया कि नगर क्षेत्र में दीनदयाल अन्त्योदया योजना- राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत गठित स्वयं सहायता समूहों के 15 स्वयं सहायता समूहों के 30 सदस्यों को 30 दिवसीय बेसिक एवं डिजाईन युक्त जूट के थैले प्रिंटिंग सहित आधारित प्रशिक्षण जानकी देबी एजुकेशनल वेलफेयर सोसाइटी देहरादून के सहयोग दिया जा रहा है।

प्रशिक्षण के दौरान पालिका के आध्यक्ष पुष्पा पासवान द्वारा समूहों के सदस्यों को प्रेरित करते हुए बताया कि जूट के बैग बनाने से जहाँ एक ओर महिलाओं को रोजगार मिलेगा वहीं दूसरी ओर प्रतिबन्धित सिंगल उपयोग की प्लास्टिक की कैरी बैग के स्थान पर एक विकल्प भी तैयार होगा।

इस अवसर पर नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी सुधीर कुमार, विजय लक्ष्मी, सचिन कनयाल, दीवान सिंह, संदीप पटवाल और प्रशिक्षण हेतु प्रतिभागी सुलोचना तिवाडी, मधु नेगी, नर्वदा रावत, दीपा मिश्रा, रंजना नेगी. लीला बडवाल सहित आदि मौजूद रहे।