Home उत्तराखंड बदरीनाथ में एक वर्ष में तैयार होगा 50 बेडेड चिकित्सालयः डा. धन...

बदरीनाथ में एक वर्ष में तैयार होगा 50 बेडेड चिकित्सालयः डा. धन सिंह रावत।

11
0

*विभागीय अधिकारियों को दिये तेजी से निर्माण कार्य पूरा करने के निर्देश।*

*बदरीनाथ में स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित मल्टी स्पेशिएलिटी नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का किया शुभारंभ।*

*दीनदयाल योजना के तहत माणा में किसानों को वितरित किए ब्याज मुक्त ऋण*

*चमोली 11 जून 2023 (सू.वि.)*

राज्य के चिकित्सा स्वास्थ्य, शिक्षा, सहकारिता एवं जिले के प्रभारी मंत्री डा.धन सिंह रावत ने बदरीनाथ धाम में स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित ‘अस्पताल जनता के द्वार’ कार्याक्रम का शुभारम्भ किया। इसके अलावा उन्होंने माणा में सहकारिता विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को ब्याज रहित कृषि ऋण भी वितरित किया।

स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने रविवार को बदरीनाथ धाम में भगवान बदरी विशाल के दर्शन करने के उपरांत धाम में बनाये जा रहे आधुनिक सुविधाओं से युक्त 50 बेडेड चिकित्सालय का निरीक्षण किया। डा. रावत ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को लगातार मजबूत कर रही है। सूबे के चारों धामों में तीर्थ यात्रियों एवं स्थानीय लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जा सके इसके लिये चारों धामों में आधुनिक सुविधाओं से युक्त अस्पतालों का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बदरीनाथ में एक साल के भीतर 50 बेडेड अति आधुनिक चिकित्सालय बनकर तैयार हो जाएगा। उन्होंने निर्माण स्थल पर ही विभागीय अधिकारियों को चिकित्सालय के निर्माण कार्यो में और तेजी लाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही उन्होंने विभागीय अधिकारियों को चिकित्सकों एवं अन्य मेडिकल स्टॉफ के लिये बदरीनाथ में बनाये जा रहे ट्रांजिट हॉस्टल को इसी जुलाई तक पूरी तरह तैयार करने के भी निर्देश दिये, ताकि भविष्य में चिकित्सकों एवं अन्य कर्मचारियों को धाम में आवास सम्बंधी कोई दिक्कत न हो।

स्वास्थ्य मंत्री डा. रावत ने बदरीनाथ में विभाग द्वारा आयोजित ‘अस्पताल जनता के द्वार’ कार्यक्रम के अंतर्गत मल्टी स्पेशिलिटी निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का शुभारम्भ किया। इसके साथ ही उन्होंने सहकारिता विभाग द्वारा संचालित पंडित दीन दयाल उपाध्याय योजना के तहत किसानों को आजीविका बढ़ाने के लिये एक-एक लाख रूपये के ब्याज रहित कृषि ऋण चैक भी वितरित किए। उन्होंने सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बारे में लोगों को बताते हुये योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाने की अपील की।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राजीव शर्मा ने बताया कि स्वास्थ्य शिविर में माणा, बामणी, इन्द्रधरा, गजकोटी, पाण्डुकेश्वर, हनुमानचट्टी, बैनाकुली आदि गांवों से आए 245 से अधिक लोगों को लाभान्वित किया गया। शिविर में जनरल सर्जन, आर्थो सर्जन, स्त्री व बाल रोग विशेषज्ञ के साथ ही विभिन्न गैर संचारी रोगों की निःशुल्क जांच व मुफ्त दवाएं उपलब्ध कराई गई। शिविर में 11 हड्डी रोगी, 26 आंख, 28 महिला रोग, 7 बाल रोग, 13 दंत रोग, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 29, रक्त जांच 5, फिजिसियन 86 एवं 45 सामान्य रोगों की स्क्रीनिंग की गई। स्वास्थ्य प्रसार अधिकारी उदय सिंह ने शिविर में स्वास्थ्य संबंधी कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

कार्यक्रम में जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष गजेन्द्र सिंह रावत, एसीएमओ व नेत्र रोग विशेषज्ञ डा. एम.एस.खाती, वरिष्ठ फिजीशियन डा. प्रीति यादव, अस्थि रोग विशेषज्ञ डा. अंकित भट्ट, महिला मेडिकल ऑफिसर डा. नीलम नेगी, दंत रोग विशेषज्ञ डा. हरीश थपलियाल, बाल रोग विशेषज्ञ डा. रूपचन्द्र, फिजिशियन डा. अल्का रावत, महाप्रबंधक सहकारी समिति चमोली सोहन सिंह, जिला सहायक निबंधक योगेश्वर जोशी सहित ग्राम प्रधान माणा पीताम्बर मोलफा, बीडीसी मेम्बर किशोर बड़वाल, लक्ष्मण पंवार आदि मौजूद रहे।

इससे पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जोशीमठ से बदरीनाथ धाम पहुंचे। श्री बदरीनाथ मंदिर में भगवान बदरीनाथ के दर्शन करते हुए उन्होंने यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति के उपाध्यक्ष किशोर पंवार ने मा.मत्री को प्रसाद, अंग वस्त्र, तुलसी माला भेंट कर उनका स्वागत किया।