Home सोशल गोपेश्वर में खुला जिले का पहला ओपीजी एक्स रेे सेंटर

गोपेश्वर में खुला जिले का पहला ओपीजी एक्स रेे सेंटर

15
0

चमोली जिले के गोपेश्वर मुख्यालय में करणप्रयाग टैक्सी स्टैंड के पास गोपीनाथ डेंटल क्लिनिक के द्वारा आे पी जी (ऑर्थोपैंटोमोग्राम) एक्स-रे सेंटर का आज विधिवत शुभारंभ हो गया । सेंटर का शुभारंभ नगर पालिका अध्यक्ष पुष्पा पासवान रिबन काटकर किया । ओपीजी एक्स रे मशीन जिले में पहली बार लगी है , पहले लोगों ओपीजी एक्स रे करवाने को श्रीनगर ,देहरादून जैसे बड़े शहरों का रुख करना पड़ता था। इससे काफी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ता था। अब यह सुविधा लोगों को अपने ही शहर में मिल सकेगी।वही नगर पालिका अध्यक्ष उषा पासवान ने इसे शहर की उपलब्धि बताते हुए कहा कि इस मशीन के लगने से लोगों को अब श्रीनगर और देहरादून जैसे बड़े शहरों का रुख नहीं करना पड़ेगा उन्हें इलाज नहीं मिल सकेगा।

इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष पुष्पा पासवान , डॉ सुधा सिंह, दीपक , शेखर रावत, मोनिका सहित तमाम लोग मौजूद थे।

*ऑर्थोपैंटोमोग्राम (ओपीजी) एक्स-रे क्या होता है?*

ऑर्थोपैंटोमोग्राम (ओपीजी) एक्स-रे को पैनोरमिक डेंटल एक्स-रे के नाम से भी जाना जाता है।

एक ओपीजी एक्स-रे दांतों, जबड़े की हड्डियों और आसपास के हिस्सों की तस्वीर सिर्फ एक ही फिल्म में उतारने के लिए उपयोग किया जाता है। यह दंत समस्याओं के निदान में मदद करता है और प्रत्यारोपण व ऑर्थोडोंटिक्स जैसी प्रक्रियाओं की योजना बनाने में सहायक होता है।

एक्स-रे ओपीजी एक द्वि-आयामी (टू डाइमेंशनल) दंत एक्स-रे और गैर-आक्रामक टेस्ट है। यह शरीर के आंतरिक ऊतकों की छवियों को लेने के लिए विकिरण की एक छोटी मात्रा का उपयोग करता है। एक्स-रे तकनीक सबसे अधिक इस्तेमाल में आने वाले और सबसे पुरानी चिकित्सा इमेजिंग तकनीक में से एक है।

जबड़ा एक घोड़े की नाल के आकार की घुमावदार संरचना होती है, लेकिन एक्स-रे पर सपाट छवि बनती है। यह टेस्ट दातों के डॉक्टरों की विभिन्न चिकित्सीय स्थितियों का निदान करने में सहायता करता है। इस तरह के एक्स-रे के लिए फिल्म को मशीन के अंदर रखा जाता है, जबकि पारंपरिक एक्स-रे में फिल्म को मरीज के मुंह में रखा जाता था।