Home उत्तराखंड 4 सूत्रीय मांगों को लेकर सरकार करे बैठक, जोशीमठ को लेकर नीति...

4 सूत्रीय मांगों को लेकर सरकार करे बैठक, जोशीमठ को लेकर नीति करे स्पष्ट

26
0

जोशीमठ: चमोली जनपद के जोशीमठ क्षेत्र में हो रहे भुधँसाव के स्थायी समाधान को लेकर जोशीमठ संघर्ष बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले पुनर्वास और विस्थापन की स्पष्ट नीति को लेकर लगातार आंदोलन जारी है शुक्रवार को जोशीमठ बचाओ संघर्ष समिति की ओर से 4 सूत्रीय मांगों पर वार्ता करने और उसके समाधान के लिए सरकार और जोशीमठ संघर्ष समिति के भी एक बैठक का प्रस्ताव सजाया गया है जोशीमठ बचाओ संघर्ष समिति के अनुसार शासन स्तर पर शिक्षण अधिकारी के मध्यस्था में एक बैठक का आयोजन किया जाए जिसमें जोशीमठ आपदा प्रभावितों को लेकर पुनर्वास और विस्थापन की क्या नीति है इस पर स्पष्ट किया जाए जोशीमठ नगर में कौन कौन सा क्षेत्र भूगर्भीय सर्वे के अनुसार सुरक्षित और असुरक्षित हैं यह स्पष्ट किया जाए हिलंग मारवाड़ी बाईपास और एनटीपीसी के निर्माण कार्य रोका जाए 2010 में एनटीपीसी और जोशीमठ नगरपालिका के बीच हुए समझौते को लागू किया जाए जोशीमठ बचाओ संघर्ष समिति के सचिव कमल रतूड़ी ने कहा कि लगातार आंदोलन कर रही आपदा प्रभावितों के लिए सरकार को गंभीरता से सोचना होगा और 27 अप्रैल को भगवान बद्री विशाल के कपाट खुलने हैं जिसके बाद लाखों की संख्या में श्रद्धालु भगवान बद्री विशाल के दर्शन के लिए पहुंचते हैं और अगर जोशीमठ आपदा प्रभावित क्षेत्र को लेकर अगर सरकार की ओर से स्पष्ट बातें सामने नहीं आती हैं तो यह भाई देश के अलग-अलग कोनों से आने वाले श्रद्धालुओं के बीच भी बना रहेगा इस पर सरकार को जल्द निर्णय करना चाहिए