Home उत्तराखंड युविन कार्यक्रम के तहत दिया गया एक दिवसीय प्रशिक्षण

युविन कार्यक्रम के तहत दिया गया एक दिवसीय प्रशिक्षण

13
0

चमोली :बच्चों और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण तथा अन्य परेशानियां जल्द ही अतीत की बात हो सकती जाएगी। कोविन प्लेटफार्म की सफलता के बाद सरकार ने अब इसे नियमित टीकाकरण के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक रजिस्ट्री स्थापित करने के लिए दोहराया है। यूविन नामक भारत के सार्वभौमिक टीकाकरण कार्यक्रम को डिजिटल बनाने समस्त जिलों में शुरू किया जा रहा है।मंगलवार को जिला मुख्यालय गोपेश्वर में सभी स्वस्थकर्मियों, मेडिकल ऑफिसर, एएनएम को कार्यक्रम का एक दिवसीय प्रशिक्षण प्रदान किया गया। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एमएस खाती ने बताया कि इस प्लेटफार्म का उपयोग प्रत्येक गर्भवती महिला को पंजीकृत करने, टीकाकरण करने, उसके प्रसव के परिणाम को रिकॉर्ड करने, प्रत्येक नवजात शिशु के जन्म को पंजीकृत करने, जन्म खुराक देने और उसके बाद सभी टीकाकरण कार्यक्रमों के लिए किया जाएगा।
टीकाकरण के लिए व्यक्तिगत ट्रैकिंग, आगामी खुराक के लिए अनुस्मारक और ड्रॉपआउट के फॉलोअप के लिए सभी गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं का डिजिटल पंजीकरण करना होगा ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता और कार्यक्रम प्रबंधक बेहतर योजना और टीका वितरण के लिए नियमित टीकाकरण सत्र और टीकाकरण कवरेज का वास्तविक समय डाटा तैयार करने में सक्षम होंगे। गर्भवती महिलाओं और बच्चों के लिए आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन से जुड़ा टीका पावती और टीकाकरण कार्ड तैयार किया जाएगा और सभी लाभार्थियों को ट्रैक करने में और टीकाकरण करने के लिए एक सामान्य डेटाबेस है।
एसीएमओ डॉ वीपी सिंह ने बताया कि इसके माध्यम से नागरिक आसपास चल रहे नियमित टीकाकरण सत्रों की जांच कर सकते हैं और अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं।
जनपद के सभी ब्लॉक एवं ग्राम स्तर पर यूविन कार्यप्रणाली और उद्देश्य के बारे में आशाओं एवं एएनएम के माध्यम से इसके उद्देश्यों के बारे में जागरुक किया जाएगा और कर्मचारियों और स्वास्थ्य कर्मियों को यू विन के सभी मॉड्यूल पर प्रशिक्षित किया जाएगा इससे रिकॉर्ड सहित संपूर्ण टीकाकरण प्रणाली डिजिटल हो जाएगी ।
इस अवसर पर डॉ अभिषेक गुप्ता,रचना, श्री योगेश रावत, महेश देवराडी, उदय सिंह रावत, विपिन कुमार, आस्था तिवारी एवं चंद्रशेखर आदि उपस्थित रहे।