Home उत्तराखंड जिलाधिकारी ने खेनुरी गांव में सुनी जनसमस्या

जिलाधिकारी ने खेनुरी गांव में सुनी जनसमस्या

27
0

चमोली: जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने शुक्रवार को ग्राम सभा खैनुरी में ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। इस दौरान उन्होंने आपदा से क्षतिग्रस्त चमोली-खैनुरी मोटर मार्ग का स्थलीय निरीक्षण भी किया और पीएमजीएसवाई के अधिकारियों को सड़क सुधारीकरण हेतु शीघ्र उचित कार्रवाई सुनिश्चित करने निर्देश दिए। ग्राम सभा खैनुरी पहुॅचने पर ग्रामीणों ने जिलाधिकारी का फूल मालाओं से स्वागत किया।

ग्रामीणों ने आपदा में क्षतिग्रस्त अपर चमोली-खैनुरी मोटर मार्ग के दोनों ओर मजबूत पुस्ते, नालियां व स्कबर निर्माण करवाने, मानकों के अनुसार सड़क का डामरीकरण कराने, प्रभावित काश्तकारों को भूमि और भवन का उचित मुआवजा दिलाने, सड़क को आरटीओ से पास कराने तथा लोक निर्माण विभाग को हस्तांतरित कराने की मांग प्रमुखता से रखी। इस पर जिलाधिकारी ने ग्रामीणों को आस्वस्त किया कि जल्द ही समस्याओं का निराकरण किया जाएगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क सुधारीकरण के लिए आपदा न्यूनीकरण में शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। इसको जल्द से जल्द स्वीकृत कराने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने पीएमजीएवाई के अधिशासी अभियंता को निर्देशित किया कि प्रभावित काश्तकारों की भूमि और भवन का मुआवजा उपलब्ध कराने हेतु जल्द से जल्द कार्रवाई सुनिश्चित करें। अपर चमोली-खैनुरी मोटर मार्ग पर भूस्खलन एवं बरसाती नाले की समस्या का स्थायी समाधान हेतु सिंचाई, वन विभाग एवं पीएमजीएसवाई के माध्यम से संयुक्त सर्वेक्षण कर राज्य आपदा न्यूनीकरण में प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियंता ने अवगत कराया कि मोटर मार्ग के सुधारीकरण हेतु प्राकलन का संशोधित 3.7 करोड़ का आंगणन राज्य आपदा न्यूनीकरण में शासन को भेज दिया गया है। मोटर मार्ग पर नाली निर्माण, स्कवर एवं अन्य छोटे कार्यो के लिए जिला आपदा न्यूनीकरण से जल्द ही कार्य कराए जांएगे।

इस अवसर पर संयुक्त मजिस्ट्रेट दीपक सैनी, पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियंता परशुराम चमोली, बीडीओ शिव सिंह भण्डारी, ग्राम प्रधान रेखा देवी सहित ग्रामीण मौजूद थे।