Home उत्तराखंड विधि विधान के साथ खुले वाण स्थित लाटू धाम के कपाट

विधि विधान के साथ खुले वाण स्थित लाटू धाम के कपाट

26
0

खुले लाटू देवता के कपाट, उमडे श्रद्धालू
1 बजकर 30 मिनट पर खुले कपाट
6 महीन श्रद्धालु कर सकेंगे पूजा
40 किमी की दौड पूरी कर देवाल से वाण पहुंची सरोजनी कोटेडी, ग्रामीणो ने किया स्वागत
कपाट खुलने के अवसर पर थराली के विधायक भूपाल राम टम्टा और देवाल ब्लाक प्रमुख दर्शन दानू पहुंचे वाण

देवाल! मां नंदा के धर्म भाई वाण गांव स्थित लाटू देवता मंदिर के कपाट आगामी 6 महीने के लिए भक्तों के दर्शनार्थ खोले दिये गये। आज बुद्ध पूर्णिमा/बैशाख पूर्णिमा के अवसर पर सैकड़ो भक्तो की उपस्थिति में विधि विधान और वैदिक मंत्रोच्चार के साथ लाटू मंदिर के दोपहर 1 बजकर 30 मिनट पर कपाट खोले गये। इस अवसर पर उपस्थित श्रद्घालुओं नें स्थानीय ग्रामीणों के साथ पारम्परिक झोडा, झुमेला लोकनृत्य किया। स्थानीय ग्रामीणों नें मां नंदा और लाटू देवता के लोकगीत और जागर भी लगाये। इस अवसर पर लाटू देवता के पुजारी खीम सिंह नेगी, लाटू मंदिर समिति के उपाध्यक्ष हीरा सिंह पहाडी, जागर गित्योर हुकुम सिह, सामाजिक कार्यकर्ता हीरा सिंह पहाडी, अवतार सिंह, खिलाफ सिंह, देवेंद्र सिंह पंचोली, महिला मंगल दल अध्यक्ष नंदी देवी, क्षेत्र पंचायत सदस्य रामेश्वरी देवी, घनश्याम सिंह, गब्बर सिंह दानू, देवेंद्र सिंह दानू, गंगा सिंह, ढोल वादक बखतावर राम, भवान राम सहित अन्य लोग उपस्थित रहे

सरोजनी ने लगाई 40 किमी की दौड!

लाटू देवता के कपाट खुलने पर चौड़ गांव की 20 वर्षीय सरोजनी कोटडी नें देवाल से वाण तक 40 किमी की दौड लगायी। वाण गांव पहुंचने पर ग्रामीणों नें सरोजनी का स्वागत किया।