Home उत्तराखंड महिलाओं के सुरक्षा_कवच उत्तराखण्ड पुलिस एप के अन्तर्गत गौरा शक्ति पर पंजीकरण...

महिलाओं के सुरक्षा_कवच उत्तराखण्ड पुलिस एप के अन्तर्गत गौरा शक्ति पर पंजीकरण किये जाने हेतु महिलाओं को किया जा रहा जागरुक

39
0

पुलिस अधीक्षक, रुद्रप्रयाग द्वारा दिये गये निर्देशों के क्रम में महिला सुरक्षा को सर्वोपरि रखे जाने तथा उत्तराखण्ड पुलिस एप के अन्तर्गत गौरा शक्ति पर पंजीकरण किये जाने हेतु प्रभारी निरीक्षक कोतवाली सोनप्रयाग श्री सुरेश चन्द्र बलूनी द्वारा पंचायत घर शेरसी में स्थानीय महिलाओं के साथ गोष्ठी आयोजित की गयी। उपस्थित महिलाओं को उत्तराखण्ड पुलिस एप के फीचर गौरा शक्ति में पंजीकरण किये जाने के बारे में बताया गया। महिलाओं को बताया गया कि इस एप के अन्तर्गत उनकी किसी भी प्रकार की शिकायत को जनपद की महिला पुलिस अधिकारी द्वारा इस एप के माध्यम से टेक ओवर कर आपसे वार्ता कर अपराध की गम्भीरता के अनुसार कार्यवाही सुनिश्चित करायी जायेगी। महिलायें बेफिक्र होकर अपनी किसी भी प्रकार की शिकायतें दर्ज करा सकती हैं।
महिलाओं से संवाद स्थापित करते हुए अवगत कराया गया कि वे अपने बच्चों पर भी विशेष नजर रखें, यह भी ध्यान रखें कि वे अपने मोबाइल का प्रयोग पढ़ाई के अतिरिक्त अत्यधिक समय तक विभिन्न गेम्स में तो नहीं कर रहे। साथ ही अपने घर परिवार के पुरुष सदस्यों को आगाह करें कि वे यातायात के नियमों का पालन करें, शराब पीकर वाहन न चलायें। घर पर यदि दुपहिया वाहन है तो बिना हैलमेट के वाहन का संचालन न करें।
नशे के दुष्प्रभावों के बारे में जानकारी देते हुए घर के सदस्यों को इससे दूर रहने के बारे में जागरुक किये जाने हेतु बताया गया।
मौजूदा दौर के हर पल होने वाले अपराध साइबर अपराध के बारे में बताते हुए इससे बचने के उपायों की जानकारी साझा की गयी। अवगत कराया गया कि जिन भी विषयों पर यहां पर चर्चा हुई है, इनसे सम्बन्धित शिकायतों को उत्तराखण्ड पुलिस एप के अन्दर बने अलग-अलग फीचरों में की जा सकती है। आपात स्थिति में इस एप के एसओएस (लाल रंग का बड़ा सा बटन) का प्रयोग कर सकते हैं या डायल इमरजेन्सी नम्बर डायल 112 पर कॉल कर सकते हैं। साइबर अपराध के शिकार हो जाने पर साइबर अपराध हैल्पलाइन नम्बर 1930 का प्रयोग किये जाने हेतु बताया गया। महिलाओं द्वारा जनपद पुलिस के जागरुकता अभियान का आभार प्रकट किया गया।