Home उत्तराखंड चमोली में लोकसभा चुनाव की तैयारियां हुई तेज।वोटर्स टर्नआउट बढ़ाने के लिए...

चमोली में लोकसभा चुनाव की तैयारियां हुई तेज।वोटर्स टर्नआउट बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन ने लगाया जोर।

8
0

चमोली
जनपद चमोली में लोकसभा चुनाव की तैयारियां जोरों पर है। जिला प्रशासन शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए दिन रात जुटा है। प्रदेश में 16 मार्च से आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो गई है। आगामी 19 अप्रैल को उत्तराखंड में लोकसभा के चुनाव होने है।

जनपद चमोली में तीनों विधानसभा 299777 मतदाता पंजीकृत है। जिसमें पुरुष 152866, महिला 146910 तथा 02 थर्ड जेंडर है। इसके अतिरिक्त 10372 सर्विस मतदाता है। पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान जिले में 18-19 आयु वर्ग के 6335 मतदाताओं का पंजीकरण किया गया है। जनपद में 3167 दिव्यांग और 85 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 2282 मतदाता है। सबसे अधिक 1136 दिव्यांग मतदाता थराली विधानसभा में पंजीकृत है।

जिले में 592 मतदेय स्थल है। जिसमें बद्रीनाथ में 210, थराली में 203 तथा कर्णप्रयाग में 179 मतदेय स्थल बनाए गए है। लोकसभा निर्वाचन के लिए 19 जोनल एवं 125 सेक्टर अधिकारियों की तैनाती की गई है। इसके अतिरिक्त 10 वीडियो निगरानी टीम, 20 उड़नदस्ता, 24 स्थैतिक निगरानी तथा 03 वीडियो अवलोकन टीमें बनाई गई है। जनपद चमोली की तीनों विधानसभा के अतंर्गत 26 शैडो एरिया है। जहां पर कोई भी नेटवर्क नहीं है। इन मतदेय स्थलों पर जिला प्रशासन द्वारा सेटेलाइट फोन की व्यवस्था की गई है। जिला प्रशासन द्वारा लोकसभा चुनाव में इस बार 592 मतदेय स्थलों में से 304 मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था भी की गई है। पिछले लोकसभा चुनाव 2019 में जनपद में 56.77 प्रतिशत मतदान हुआ था, जबकि विधानसभा निर्वाचन 2022 में 61.33 प्रतिशत मतदान हुआ। इस बार लोकसभा चुनाव प्रतिशत बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा स्वीप के तहत प्रत्येक मतदेय स्थलों, सार्वजनिक स्थानों और गांव गांव वृहत स्तर पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। दिव्यांग और 85 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाताओं को बूथ तक आने जाने के लिए वालियंटर की व्यवस्था की गई है। निर्वाचन ड्यूटी पर तैनात कार्मिकों को ईडीसी से वोटिंग की सुविधा बनाई गई है। जिला प्रशासन द्वारा हर व्यक्ति को मतदान के लिए जागरूक किया जा रहा है।
 
लोकसभा चुनाव के लिए सबसे अधिक मतदाता वाले मतदेय स्थलों में कृषि विज्ञान केन्द्र ग्वालदम है जिसमें 614 महिला तथा 581 पुरुष मतदाता सहित कुल 1195 मतदाता पंजीकृत है। जबकि रा.प्रा.वि. पपडियाणा में 640 महिला तथा 534 पुरुष मतदाता सहित कुल 1174 मतदाता पंजीकृत है। जबकि रा.प्रा.वि.पज्याणा में 550 महिला तथा 582 पुरुष सहित 1132 मतदाता पंजीकृत है। सबसे कम मतदाता वाला मतदेय स्थल रा.प्रा.वि. सकण्ड है जिसमें 27 महिला, 31 पुरुष सहित 58 मतदाता पंजीकृत है। इसके बाद रा.प्रा.वि.पैंका जिसमें 34 महिला तथा 31 पुरुष सहित कुल 65 मतदाता है। इसके बाद रा.प्रा.वि. पिनांऊ है जिसमें 44 महिला 43 पुरूष सहित 87 मतदाता पंजीकृत है।